Skip to main content

SarkariNetwork.xyz : Sarkari Network, sarkarinetwork, haryana network

Update first and fastest.



1520364955114655320

Gurugram District Haryana Gk - गुड़गांव अब गुरुग्राम बन गया - History of Gurugram

Gurugram District Haryana Gk - गुड़गांव अब गुरुग्राम बन गया - History of Gurugram

 

गुरुग्राम का इतिहास – History of Gurugram

 डिस्ट्रिक्ट गेजेटेरियन के अनुसार इसका नाम गुड़गांव ( Gurugram ) था| यह आध्यात्मिक शिक्षक का गांव माना जाता है। माना जाता है कि महाभारत काल मे पांडव राजा युधिष्ठिर ने यह गांव अपने गुरु द्रोणाचार्य को दे दिया था।

यह भी मान्यता है कि इस स्थल पर गुरु द्रोणाचार्य ने कोरवों व पांडवो को आद्यात्मिक शिक्षा प्रदान की थी। गुरु को दान में दिए जाने के कारण ही इसका नाम गुड़गांव रखा गया। अब हरियाणा सरकार ने इसका नाम गुड़गांव से बदलकर गुरुग्राम कर दिया है।

 

गुरुग्राम कहां है – Gurugram Kha Hai

यह जिला हरियाणा राज्य में स्थित है| यह राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र ( NCR ) का एक भाग है। गुरुग्राम जिले का क्षेत्रफल 1253 वर्ग किमी है। इस जिले की मिट्टी पीली है। यहां पर साहिबी नदी बहती है।

गुरुग्राम नहर भी इस जिले में स्थित है। अरावली की पहाड़ियां भी इस जिले में है। यह हरियाणा का छठा सबसे बड़ा शहर है। इसे Millenium City कहा जाता है।

गुरुग्राम कब बना – Gurugram Kab Bana

इस जिले का गठन राज्य के गठन के साथ ही 1 नवम्बर 1966 को हुआ था। हरियाणा राज्य के गठन के समय गुरुग्राम भी इसके सात राज्यों में शामिल था|

प्रमुख विश्वविद्यालय

1) AMITY विश्वविद्यालय                      = 2010

2) ITM विश्वविद्यालय                         = 2010

3) APJ सत्या विश्वविद्यालय                   = 2010

4) भारतीय राष्ट्रीय रक्षा विश्वविद्यालय            = 2010

5) अंसल विश्वविद्यालय                        = 2012

प्रमुख स्थल

1) फरुखनगर :- गुरुग्राम ( Gurugram ) जिले में फरुखनगर नामक एक छोटा सा नगर है। इस नगर से डेढ़ मील की दूरी पर स्थित पुरानी राजपुताना – मालवा रेलवे लाइन, नमक बाहर ले जाने के लिए बनाई गई थी।

पहले यहां बड़ी मात्रा में नमक बनाया जाता था और बाहर भेजा जाता था। यहां के बिलोच शासक दलेल खां ने इस नगर को अष्टभुजी आकृति में बनवाया था। दिल्ली दरवाजा ओर शीशमहल इस नगर की पुरानी दर्शनीय इमारतें है। यह बिलोच सरदार आगे चलकर फौजदार खां के नाम से प्रसिद्ध हुआ।

2) सोहना का किला :- गुरुग्राम ( Gurugram ) जिले में स्थित सोहना नगर 18 वीं शताब्दी में सोहन सिंह नामक राजा द्वारा बसाया गया था। उसी के काल मे यहां पर एक किले का निर्माण करवाया गया जो खंडहर के रूप में आज भी विधमान है।

3) सराय अलीवर्दी :- यह गांव गुरुग्राम ( Gurugram ) ने समीप स्थित है। इस गांव के नामकरण के बारे में बताया जाता है कि वस्तुतः दो अलग – अलग उदेश्यों के सम्मिश्रण से सराय अलीवर्दी के नाम से ग्राम की रचना हुई।

पहला तो यह कि इस क्षेत्र में बहुत पहले मस्जिद की ओट में एक सराय थी। और दूसरा यह कि यहां एक शासक अलीवर्दी ने बड़ी प्रसिद्धि पाई, संम्भवत इसी कर नाम पर इसका नाम अलीवर्दी पड़ा। अल्लाउद्दीन खिलजी के काल मे यह क्षेत्र बहुत बुलन्दियों पर रह।

4) सोहना :- यह स्थान उन झरनों के लिए प्रसिद्ध है, जिनमे त्वचा रोगों को ठीक करने के गुण मौजूद है। वर्तमान कुंडों में सबसे पुराना कुंड लगभग 300 वर्ष पूर्व का है। इसकी उत्तपत्ति रकिशु नामक फ़क़ीर से जुड़ी है। यहां एक प्राचीन शिव मंदिर भी है। सोहना में प्रसिद्ध दमदमा झील भी है।

5) सुल्तानपुर  राष्ट्रीय उद्यान :- यह राष्ट्रीय उद्यान गुरुग्राम जिले के सुल्तानपुर में स्थित है| यह पहले पक्षी अभ्यारण्य था जिसे वर्ष 1989 में राष्ट्रीय पार्क बनाया गया| यह प्रवासी पक्षियों के लिए प्रसिद्ध है|

गुरुग्राम के प्रमुख मेले

1.    शीतला माता का मेला

2.    बुद्धो माता का मेला

3.    गोगा नवमी का मेला

4.    महादेव का मेला

5.    बूढ़ी तीज का मेला

6.    भक्त पूरणमल का मेला

7.    शाहचोखा खोरी का मेला

जन्म स्थली

     सतीश कौशिक

     अकबर अली      ( पटौदी )

     गुलाम मोहमद

गुड़गांव की महत्वपूर्ण जानकारी

देश का पहला प्रतिरक्षा विश्वविद्यालय हरियाणा में स्थापित किया जाएगा। रक्षा मंत्रालय के सहयोग से यह विश्वविद्यालय राज्य के गुरुग्राम जिले ( Gurugram District ) के बिनोला गांव में स्थापित किया जाएगा।

गुरुग्राम जिले के मानेसर क्षेत्र में चौधरी देवीलाल आदर्श औधोगिक नगरी का विस्तार कार्यक्रम लागू किया जा रहा है। राज्य सरकार द्वारा यह परियोजना 500 एकड़ भूमि पर विकसित की जा रही है। मानेसर में ही स्पेशल इकोनॉमिक की स्थापना भी की जा रही है।

हरियाणा के गुरुग्राम ( Gurugram ) जिले में शिक्षा अनुसंधान तथा प्रशिक्षण के लिए राज्य परिषद स्थापित की गई है जिसका उद्देश्य स्कूल शिक्षा तथा उनके शिक्षकों के स्तर में सुधार लाना है।

गुरुग्राम में उच्च प्रोधोगिकी पर आधारित तथा निर्यतोन्मुखी इलेक्ट्रॉनिक औधोगिक इकाइयों की स्थापना के लिए हार्टरोंन तथा हरियाणा नगरीय विकास प्राधिकरण द्वारा संयुक्त रूप से एक सॉफ्टवेयर टेक्नोलॉजी पार्क की स्थापना की गई है।

हीरो होंडा ( 1984 में स्थापित )  की भी मुख्य निर्माण इकाई गुरुग्राम में स्थित है।

गुरुग्राम को विश्व की call center capital भी कहा जाता है।

भारत का सबसे बड़ा मॉल गुरुग्राम में स्थित है। गुरुग्राम को भारत की mall capital कहा जाता है।

गुरुग्राम में एशिया का सबसे बड़ा व विश्व का तीसरा सबसे बड़ा टोलगेट है। यह 32 lane टोलगेट है।

  बिजनेस टुडे मैगजीन के द्वारा गुरुग्राम को भारत मे रहने के लिये 11वीं स्थान प्राप्त है।

गुरुग्राम जिले का बिनोला कस्बा देश का पहला cfl गांव हो गया है।

दमदमा झील, खलीलपुर झील  और सुल्तानपुर झील ( फर्रुखनगर ) गुरुग्राम में स्थित है|

HIPA इंस्टिट्यूट ( 1983 ), SCERT ( 1979 ) तथा  IIPM ( 1995 ) गुरुग्राम में ही स्थित है|

कृषि और खनिज

गेहूँ, तिलहन, बाजरा, ज्वार और दलहन महत्त्वपूर्ण फ़सलें हैं।

उद्योग और व्यापार

यह औद्योगिक विकास का गलियारा बन चुका है। गुड़गाँव में सूती वस्त्र, यंत्रचालित बुनाई और कृषि उपकरणों से संबंधित उद्योग हैं।सूचना प्रौद्योगिकी और आईटी-सक्षम सेवा उद्योग में जिला गुड़गांव से कुल निर्यात वित्त वर्ष 2018 के अंत में 18,000 करोड़ रुपये तक पहुंच गया है।

यातायात और परिवहन

यह शहर दिल्ली से 30 किलोमीटर दक्षिण-पश्चिम में दिल्ली-जयपुर राजमार्ग पर स्थित है।

पर्यटन

हरियाणा राज्य में स्थित गुड़गाँव बहुत ही ख़ूबसूरत स्थान है।[कृपया उद्धरण जोड़ें] गुड़गाँव पर्यटन का आकर्षक स्थल है। गुड़गाँव में शीतला माता का मन्दिर बहुत प्रसिद्ध है।[कृपया उद्धरण जोड़ें] देश-विदेश से पर्यटक शीतला माता की पूजा करने के लिए यहां आते हैं। शीतला माता के मन्दिर के अलावा भी पर्यटक यहाँ पर कई पर्यटक स्थलों की सैर कर सकते हैं।

जनसंख्या

2001 की जनगणना के अनुसार इस शहर की जनसंख्या 1,73,542, ग्रामीण की जनसंख्या 17,100 और ज़िले की कुल जनसंख्या 16,57,669 है।

विकास

गुड़गाँव का कुछ दिनों में जबरदस्त औद्योगिकरण हुआ है। यहाँ पर कई बहुर्राष्ट्रीय कम्पनियों के कारख़ाने स्थापित किए गए हैं। हज़ारों मजदूर यहाँ काम करके अपनी आजीविका कमाते हैं। इसके अलावा गुड़गाँव को आई.टी. सेक्टर का गढ़ भी कहा जाता है। गुडगांव ने कुछ ही समय में जबरदस्त प्रगति की है और हरियाणा सरकार इसे नई ऊँचाईयों तक ले जाने के लिए यहाँ नई परियोजनाएँ शुरू करने की कोशिश कर रही है। इस शहर को साइबर सिटी के रूप में नई पहचान मिल रही है।

Q.1. गुरुग्राम की स्थापना कब हुई?

हरियाणा के Gurugram Ki Sthapna 1 नवम्बर 1966 को हरियाणा राज्य के गठन के समय की गयी थी| वैसे तो गुरुग्राम का इतिहास काफी पुराना है|

Q.2. गुरुग्राम किस प्राचीन गुरु से संबंधित है?

गुरुग्राम हमारे देश के महान गुरु द्रोणाचार्य जी से संबंधित है| गुरु द्रोणाचार्य ने पांडवों और कौरवों को शिक्षा प्रदान की थी इसलिए द्रोणाचार्य जी को यह स्थान दान में मिला था| गुरु को दान में दिए जाने के कारण ही इसका नाम गुरुग्राम पड़ा|

Q.3. गुरुग्राम का पुराना नाम क्या था?

Gurugram ka purana naam गुड़गांव था लेकिन हरियाणा सरकार ने इसे बदलकर गुरुग्राम कर दिया|